SWP क्या है? और यह मार्केट में कैसे काम करता है इसके बारे में विस्तार से जाने –

SWP यानि सिस्टमैटिक विड्रॉल प्लान। इसमें निवेशक एक नियमित अंतराल में एक निश्चित राशि निकाल सकता है। SWP से दो तरह से राशि निकली जा सकती है।

  1. निश्चित रकम निकलना – इसमें निवेशकों को यह पहले ही तय करना होता है कि वह अपने निवेश से कितनी रकम निकाल सकते है और कब कब निकाल सकते है।

  2. बढ़ी हुई रकम निकालना – इसके तहत निवेशक निवेश की हुई राशि में हुई बढ़ोतरी या लाभ को निकाल सकता है। उदाहरण के लिए यदि एक निवेशक जिसने 10 लाख रूपये का निवेश किया और निवेश में 10% की वृद्धि हुई तो और उस 10% का लाभ राशि निकाल सकता है।

 

SWP के लाभ –

  1. सप्लीमेंट इनकम का स्रोत – SWP में निवेश करने से निवेशक को एक स्थिर इनकम का स्रोत मिलता है।

  2. SWP में निवेश करने से आपको निरंतर धन का लाभ मिलता रहता है जिससे आपको रिटायरमेंट के बाद भी धन की कमी नहीं होगी।

  3. आप अपने बच्चो की पढ़ाई तथा अन्य खर्च भी SWP से उठा सकते है।

SWP मार्केट में कैसे काम करता है –

SWP मार्केट निवेश से मिलने वाले RETURN पर काम करता है। उदाहरण के लिए मान लीजिये आपने 10000 रूपये का SWP करा और उस निवेश पर आपको सालाना 15% का RETURN मिला। यह RETURN की राशि डेढ़ लाख रूपये बनती है। इस राशि को आप सालाना या मंथली निकाल सकते है।

SWP को आप म्यूचुअल फंड और अन्य किसी इंडेक्स या ETF में भी कर सकते है।

 

 

अगर आप अच्छे से समझना चाहते है की यह कैसे काम करता है तो आप नीचे दिए गए बटन को दबा कर देख सकते है।

Trading Chanakya Recommended Books in hindi

LEAVE A REPLY