नमस्कार दोस्तों आज हम इस लेख में एक कमाल के इंडिकेटर के (Pring’s Know Sure Thing (KST)) बारे में जानेगे और देखेंगे यह इंडिकेटर कैसे काम करता है और किस तरह की गणना के हिसाब से चलता है।

किस-किस तरह के बाजार में काम करेगा :-

  • शेयर बाजार

  • कमोडिटी बाजार

  • करेंसी बाजार

किस टाइम फ्रेम में काम कर सकते है :-

  • इंट्राडे – 5 MIN , 10 MIN , 15 MIN , 30 MIN
  • शार्ट टर्म – 1 HOURS , 1 WEEK .

क्या है ?(Pring’s Know Sure Thing (KST)) :-

इस इंडिकेटर को MARTIN PRING इजात किया था। (KST) एक MOMENTUM OSCILLATOR है जो चार अलग-अलग टाइम फ्रेम के RATE OF CHANGE के माध्यम से काम करता है। इस इंडिकेटर को सबसे पहले (STOCK & COMMODITY MAGAZINE) 1992 में दुनिया के सामने लाया गया था। यह इंडिकेटर चार अलग-अलग टाइम फ्रेम के साथ काम करता है इसलिए यह ज्यादा सटीक जानकारी देने में कामयाब हो पाता है।

इस इंडिकेटर से हमे क्या-क्या पता लगता है :- 

  • इस इंडिकेटर के साथ आप बाजार के ट्रेंड का पता लगा सकते है।

  • इस इंडिकेटर के सहायता से आप OVERBOUGHT / OVERSOLD का पता लगा सकते है।

  • अलग-अलग टाइम फ्रेम के साहयता से यह इंडिकेटर ज्यादा सटीक जानकारी देता है।

  • बाकि इंडिकेटर की तरह आप इसके अंदर DIVERGENCE, TREND LINE और SWING का भी सहारा ले सकते है।

किस तरह हम ट्रेडिंग कर सकते है इस इंडिकेटर के साथ :-

  • इस इंडिकेटर के अंदर दो लाइन्स अपनों दिखाई देगी पहली लाइन (मूविंग एवरेज) की है और दूसरी लाइन (रेट ऑफ़ चेंज) की है

  • BUY SIGNAL :- जैसे ही (रेट ऑफ़ चेंज) की लाइन (मूविंग एवरेज) की लाइन के ऊपर आती है।

  • SELL SIGNAL :- जैसे ही (रेट ऑफ़ चेंज) की लाइन (मूविंग एवरेज) की लाइन के निचेआती है

  • BULLISH TREND :- दोनों लाइन जब भी (ZERO) से ऊपर यानि POSITIVE ZONE में आती है।

  • BEARISH TREND :- दोनों लाइन जब भी (ZERO) से निचे यानि NEGATIVE ZONE में आती है।

FORMULA :- 

LEAVE A REPLY